PM Shapath Grahan 2024 live | Modi

Bhomat News
2 Min Read

लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजों में बहुमत मिलने और एनडीए के नेता चुने जाने के बाद देश की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने नरेंद्र मोदी को पीएम पद की शपथ लेने का न्योता दिया है. इस बार पीएम मोदी की कैबिनेट में एनडीए गठबंधन दलों के नेताओं को भी तरजीह दी जाएगी. बीजेपी के अलावा इस गठबंधन में टीडीपी, जेडीयू, एनसीपी, शिवसेना एलजेपी रामविलास, जनसेना पार्टी समेत अन्य दल और निर्दलीय सांसद भी शामिल हैं.

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव के बाद नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र में तीसरी बार एनडीए की सरकार बनने जा रही है. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 9 जून को शाम 07.15 बजे राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्रिपरिषद के सदस्यों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाएंगी. पीएम मोदी लगातार तीसरी बार ऐतिहासिक शपथ लेने जा रहे हैं.

शपथ ग्रहण समारोह का पूरा कार्यक्रम क्या है?

शपथ ग्रहण समारोह की तिथि और समय: रविवार 9 जून को शाम 6 बजे शपथ ग्रहण समारोह

विदेशी अतिथि: मालदीव के राष्ट्रपति मोहम्मद मोइज्जू, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे, नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल, भूटान के राजा जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक, सेशेल्स के उपराष्ट्रपति अहमद अफीफ और मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जगन्नाथ के इस कार्यक्रम में भाग लेने की उम्मीद है।

भारतीय मेहमान: वकील, डॉक्टर, कलाकार, सांस्कृतिक कलाकार और प्रभावशाली व्यक्ति जैसे विभिन्न क्षेत्रों की प्रमुख हस्तियाँ। इसमें विकसित भारत के राजदूत, केंद्र सरकार की योजनाओं के लाभार्थी, आदिवासी महिलाएँ और सफ़ाई कर्मचारी शामिल हैं।

धार्मिक नेता: विभिन्न धर्मों के लगभग 50 प्रतिष्ठित धार्मिक नेताओं को भी आमंत्रित किया गया है।

मन की बात प्रतिभागी: मोदी द्वारा उनके योगदान के लिए सम्मानित किए गए प्रतिभागियों के भी समारोह में शामिल होने की उम्मीद है।

पद्म पुरस्कार विजेता: पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री पुरस्कार विजेता भी मौजूद रहेंगे।

Share this Article
India Post Payment Bank Loan 2024 सिर्फ 5 मिनट में 50,000 का लोन PMKVY 4.0 Registration: फ्री ट्रेनिंग सर्टिफिकेट के साथ मिलेंगे 8 हजार Samsung Galaxy F15 5G गेमिंग के लिए अच्छा है? Mother’s Day 2024: celebration ideas infinix note 50 pro 5g price in india